fbpx
भावा वैली के बागवानो को 27 सितंबर के दिन प्रकृति ने अपना भयानक रूप दिखाया। स्थानीय बागवानों के अनुसार आंधी व ओले पड़ने से उनकी 50 से 70 फीसदी सेब तबाह हो गए जो कि अब पौधों से उतारकर मंडी पहुंचाने के लिए तैयार था...

प्रकृति ने दिखाया अपना भयानक रूप, बागवानों के 70 फीसदी सेब तबाह

ADVERTISEMENT

भावा वैली के बागवानो को 27 सितंबर के दिन प्रकृति ने अपना भयानक रूप दिखाया l स्थानीय बागवानों के अनुसार आंधी व ओले पड़ने से उनकी 50 से 70 फीसदी सेब तबाह हो गए जो कि अब पौधों से उतारकर मंडी पहुंचाने के लिए तैयार था l यह नुकसान भावा वैली के तीनों पंचायत क्षेत्र कटगावँ, यांगपा काफनू एवं कुछ समय पहले है नये पंचायत के दर्जा प्राप्त यांगपा-2 और क्राबा मे हुआ l भावा वैली मे मौके का मुआयना करने स्वयं तेहसीलदार निचार ने भी प्रभावित बागवानो के सेब बगीचो का दौरा कर कहा कि क्षेत्र के बागवानो का भारी नुकसान नुकसान हुआ है l उन्होंने कहा कि बागवानो का लगभग 40 प्रतिशत नुकसान हुआ है l इसके लिए मात्र उनके पास 500 रुपए प्रति बीघा राहत का प्रावधान है l
इससे क्षेत्र के बागवानो मे अत्यधिक रोष है l बागवानो का कहना है कि सरकार क्षेत्र के बागवानो के प्रति संवेदनशील नही है l जहाँ एक बीघा बगीचे से एक से डेढ़ लाख की पैदावार होती है 500 रूo का मुवावजा क्षेत्र के सेब उत्पादको से एक तरह का मजाक है l
आज जिला युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने पूर्व जिला NSUI अध्यक्ष चंद्र प्रभाकर नेगी की अगुवाई मे DC किन्नौर श्री गोपाल चंद को सरकार तक क्षेत्र के बागवानो की बात पहुंचाने के लिए ज्ञापन सौंपा l साथ ही शिशु पाल नेगी-जिला युवा कांग्रेस मीडिया को-ओर्डिनेटर, प्रवेश नेगी -युवा कांग्रेस कार्यकर्ता, कुलभूषण नेगी- सचिव हिमाचल यूथ कांग्रेस, किरण पांगटू , भूपेश फन्यान व अन्य साथी भी मौजूद थे l युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि बागवानो के लिए 500 रूपए प्रति बीघा मुवावजा हास्यासपद है l

RELATED POSTS

Bite : 1) चंद्र प्रभाकर नेगी, पूर्व जिला अध्यक्ष, NSUI
2) प्रवेश नेगी, युवा कांग्रेस कार्यकर्ता